Events

Vice Chancellor of Sanskriti University -
Dr. Rana Singh honored with "Bihar Gaurav Samman"
Voice of Bihar honoring talents doing for many years

Mathura. Dr. Rana Singh, Vice-Chancellor of Sanskriti University, attended the Bihar Pratibha Award ceremony under the banner of Voice of Bihar and Bihar Dastak, on 8th July, held at the Constitution Club, New Delhi. Shri S.S. Ahluwalia, Minister of State for Electronics and Information Technology and Sikkim's Former Governor, Balmiki Prasad Singh, honored Dr. Rana Singh with “Bihar Gaurav Samman” award. On this occasion, along with Dr. Rana Singh, young talents who became successful in the Indian Civil Services Examinationorganized by UPSC and hailing from Bihar were honored.

It is known that the Voice of Bihar and Bihar Dastak have been appreciating the talent for illuminating the name of Bihar in various areas over the last several years. In this connection, this year, about 40 persons, who have illuminated the name of Bihar in other areas including the Indian Administrative Services/Civil Services, were awarded the Bihar Gaurav Samman in a dignified ceremony on July 8, Sunday. These recipients include Dr. Rana Singhthe Vice-Chancellor of Sanskriti University for his contributions in the domain of education. As far as Dr. Rana Singh is concerned, he has made commendable contributions in the field of higher and technical education in India and also in the United Arab Emirates.

In the Annual Honor of the Voice of Bihar and Bihar Dastak, Union State Minister for Electronics and IT, Shri S.S. Ahluwalia, and Shri Balmiki Prasad Singh, Former Governor of Sikkim and Former Home Secretary, appreciated the event and told the participants that after receiving the award, the accountability of the recipients increases further. India is a country of youth, and every successful person should show the right direction to the youth and also to the future generations. On his honor, Vice-Chancellor Dr. Rana Singh said that this is a historic moment. It is a pleasant experience for him to receive this honor in Delhi which is heartlandof the country.

Speaking on the occasion, Chancellor of Sanskriti University, Shri Sachin Gupta expressed happiness about Vice Chancellor-Dr. Rana Singh being honored with “Bihar Gaurav Samman” and said that he has the ability to achieve such honor. Sanskriti University is also proud with his respect. Chancellor Shri Gupta congratulated all respected individuals including Dr. Rana Singh and wished him success for his bright future. On receipt of the prestigious honor of “Bihar Gaurav Samman” by Dr. Rana Singh, Pro-Chancellor Rajesh Gupta, Executive Director, P.C. Chhabra, Pro-Vice-Chancellor Dr. Abhay Kumar etc. congratulated him and expressed happiness.


संस्कृति यूनिवर्सिटी के कुलपति डा. राणा सिंह को बिहार गौरव सम्मान
वॉयस ऑफ बिहार कई वर्षों से कर रही प्रतिभाओं का सम्मान

मथुरा। नई दिल्ली के कंस्टीट्यूशन क्लब में आठ जुलाई, रविवार को वॉयस ऑफ बिहार और बिहार दस्तक के बैनर तले आयोजित बिहार प्रतिभा सम्मान समारोह में संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलपति डा. राणा सिंह को केन्द्रीय मंत्री एस.एस. अहलूवालिया और सिक्किम के पूर्व राज्यपाल वाल्मीकि सिंह के करकमलों से बिहार गौरव सम्मान से विभूषित किया गया। इस अवसर पर डा. राणा सिंह के साथ ही उन प्रतिभाशाली युवाओं को भी सम्मानित किया गया जिन्होंने इस साल भारतीय प्रशासनिक सेवा में सफलता हासिल कर अपने प्रदेश बिहार को गौरवान्वित किया है।

ज्ञातव्य है कि वॉयस ऑफ बिहार और बिहार दस्तक द्वारा विगत कई वर्षों से विविध क्षेत्रों में बिहार का नाम रोशन करने वाली प्रतिभाओं का सम्मान किया जा रहा है। इसी कड़ी में इस वर्ष भारतीय प्रशासनिक सेवा सहित अन्य क्षेत्रों में बिहार का नाम रोशन करने वाली लगभग 40 शख्सियतों को आठ जुलाई, रविवार को एक गरिमामय समारोह में बिहार गौरव सम्मान से नवाजा गया। इन शख्सियतों में संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलपति डा. राणा सिंह भी शामिल हैं। डा. राणा सिंह की जहां तक बात है इन्होंने उच्च शिक्षा के क्षेत्र में सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि संयुक्त अरब अमीरात में भी अपने बौद्धिक कौशल का लोहा मनवाया है।

वॉयस ऑफ बिहार और बिहार दस्तक के वार्षिक सम्मान समारोह में केन्द्रीय मंत्री एस.एस. अहलूवालिया और सिक्किम के पूर्व राज्यपाल वाल्मीकि सिंह ने आयोजन की प्रशंसा करते हुए सम्मानित हुए प्रतिभागियों से कहा कि सम्मान के बाद जवाबदेही और बढ़ जाती है। भारत युवाओं का देश है, ऐसे में हर कामयाब शख्सियत को भावी पीढ़ी को सही दिशा दिखानी चाहिए। अपने सम्मान पर कुलपति डा. राणा सिंह ने कहा कि यह ऐतिहासिक पल है। देश के दिल दिल्ली में यह सम्मान मिलना उनके लिए सुखद अनुभव है।

संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलाधिपति सचिन गुप्ता ने कुलपति डा. राणा सिंह को बिहार गौरव सम्मान से विभूषित किए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि उनमें ऐसे सम्मान हासिल करने की काबिलियत है। उनके इस सम्मान से संस्कृति यूनिवर्सिटी भी गौरवान्वित है। कुलाधिपति श्री गुप्ता ने डा. राणा सिंह सहित सम्मानित सभी शख्सियतों को बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। डा. राणा सिंह को बिहार गौरव सम्मान मिलने पर उप-कुलाधिपति राजेश गुप्ता, कार्यकारी निदेशक पी.सी. छाबड़ा, प्रति-कुलपति डा. अभय कुमार आदि ने खुशी जताते हुए उन्हें बधाई दी है।

Online Admission